हज़रत फतेह शाह मस्जिद में चुनाव रोकने याचिका की सुनवाई कल।

hulchal news
1 0
Read Time:5 Minute, 19 Second
  • 35 वर्ष से 25 वर्ष संशोधन होते तक मुतवल्ली चुनाव रोकने की मांग की।

रायपुर। छत्तीसगढ़ राज्य वक्फ बोर्ड के निर्देशानुसार विभिन्न मस्जिदों में प्रजातांत्रिक तरीके से चुनाव कराया जाना है। जिसके लिए वक्फ बोर्ड ने बाकायदा एक चुनाव संचालन कमेटी गठित की है जिसके संयोजक सहायक ट्रांसपोर्ट कमिश्नर शोएब अहमद खान को बनाकर उनके साथ उप पुलिस अधीक्षक रेल्वे सैय्यद नसीम अख्तर और उप पुलिस अधीक्षक एसीबी फरहान कुरैशी को भी कमेटी में शामिल किया गया है। इनकी टीम ने जामा मस्जिद, छोटापारा मस्जिद और शिया असना अशरी मस्जिद मोमिनपारा में सफलता पूर्वक चुनाव करवा चुके हैं। आगामी 9 जुलाई को हजरत फतेह शाह मस्जिद, 16 जुलाई को मौदहापारा मस्ज़िद और 23 जुलाई को नयापारा सुन्नी हनफी मस्जिद में मुतवल्ली चुनाव कराया जाना है। जिसकी सभी तैयारी लगभग पूरी कर ली गई है। गौरतलब है कि 28 अगस्त 2022 को वक्फ बोर्ड के चुनाव मार्गदर्शिका में संशोधन कर मुतवल्ली प्रत्याशी का न्यूनतम उम्र 25 वर्ष से बढ़ाकर 35 वर्ष किया गया था और उसी के अनुरूप इन तीनो मसाजिदो में चुनाव भी संपन्न कराया जा चुका है। लेकिन अभी प्राप्त जानकारी के अनुसार हजरत फतेह शाह मस्जिद के जमाती मो. जुबैर , मो यासीन, मो फरहान, यासीन खान, और मो सैफ नेहरूनगर ने हाई कोर्ट में मुतवल्ली पद हेतु न्यूनतम उम्र को 25 वर्ष संशोधन करने तक चुनाव रोकने के लिए मुख्य कार्यपालन अधिकारी वक्फ बोर्ड के विरुद्ध याचिका दायर कर दिया था लेकिन उस याचिका को वापस लेते हुए वक्फ अधिकरण में पुनः याचिका लगाई गई। जिसे माननीय विद्वान न्यायाधीश ने कल शुक्रवार को 3 बजे सुनवाई हेतु समय दिया गया है। चूंकि हजरत फतेह शाह मस्जिद में चुनाव रोकने के लिए पहले से ही मीर कादिर अली ने याचिका दायर किया हुआ है। एक ही संस्थान का प्रकरण हाई कोर्ट में पेंडिग हो उसी संस्थान का दूसरा प्रकरण वक्फ अधिकरण में भी आया है। इस पर क्या फ़ैसला सुनाया जाएगा इस बात को लेकर पत्रकारों में भी उत्सुकता थी और सुबह से दोपहर तक वक्फ अधिकरण के पास डटे रहे। अंत में जानकारी मिली कि कल 3 बजे फ़ैसला सुनाया जाएगा। हजरत फतेह शाह मस्जिद के मुतवल्ली पद के एक उम्मीदवार अजीज़ रजा ने भी आवेदन दिया कि सारी प्रक्रिया पूरी हो चुकी है साथ ही दस हजार रुपए भी हमने जमा कर दिया है अब चुनाव किसी भी हालात में रोकना समय और पैसे की बर्बादी है। अजीज़ रजा की ओर से सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ता मनुराज सिंह और अधिवक्ता एन डी मानिकपुरी पैरवी के लिए मौजूद रहे। मो .जुबैर और अन्य की ओर से अधिवक्ता मिर्ज़ा बेग हैं लेकिन आज उनके नही पहुंचने पर उनके सहयोगी अधिवक्ता मौजूद रहे। वक्फ बोर्ड की ओर से भी अधिवक्ता समीर खान और अन्य मौजूद रहे।
गौर तलब है कि राज्य वक्फ बोर्ड के चेयरमैन रिटायर्ड जस्टिस मिनहाजुद्दीन के निर्देशन में सभी मस्जिदों में बैलेट पेपर से निष्पक्ष चुनाव कराया जाना है। इसके पहले हाथ उठाकर बंद कमरे में मुतवल्ली का चुनाव कर लिया जाता था लेकिन अब ऐसा न होकर सभी लोगों को मौका दिया जायेगा। आज अधिकरण कार्यालय में वक्फ अधिकरण के सदस्य अधिवक्ता हामिद हुसैन और वक्फ बोर्ड के सदस्य जनाब रियाज़ खान भी मौजूद रहे।

आवेदक के लिए अधिवक्ता मिर्जा बेग
वक्त बोर्ड की ओर से शाहिद सिद्दीकी और जावेद समीर अधिवक्ता
छत्तीसगढ़ राज्य वक्फ अधिकरण की पीठासीन अधिकारी श्रीमती किरण चतुर्वेदी और सदस्य हामिद हुसैन

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

राज्य के शासकीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में हुई 5 प्रतिशत की वृद्धि

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ट्वीट करते हुए जानकारी दी कि हमने कैबिनेट की बैठक में राज्य के शासकीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते (डी.ए) में 5 प्रतिशत की वृद्धि करने का महत्वपूर्ण निर्णय लिया है। इससे राज्य सरकार को प्रति वर्ष एक हजार करोड़ रुपए का अतिरिक्त वित्तीय भार आएगा। […]

You May Like

Subscribe US Now