कंगना रनौत ने समलैंगिक विवाह का किया समर्थन

hulchalnews
0 0
Read Time:2 Minute, 3 Second

नयी दिल्ली. अभिनेत्री कंगना रनौत ने समलैंगिक विवाह को समर्थन देने हुए कहा है कि जब लोगों के दिल एक होते हैं, तो उनकी प्राथमिकताएं मायने नहीं रखतीं. राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित अभिनेत्री ने विवाह को ‘‘प्रेम का बंधन’’ बताया. रनौत ने रविवार को संवाददाताओं से कहा, ‘‘विवाह प्रेम का बंधन है. जब लोगों के दिल एक होते हैं, तो उनकी क्या प्राथमिकताएं हैं, हम उसके बारे में क्या कह सकते हैं?’’ ‘सिमरन’ फिल्म के सह-लेखक अपूर्वा असरानी ने ऐसे समय में ‘‘विवाह की समानता’’ पर बात करने के लिए रनौत को धन्यवाद दिया, जब अधिकतर फिल्मी कलाकार इस बारे में बात करने से कतराते हैं. असरानी ने अपने समलैंगिक होने की बात सार्वजनिक रूप से स्वीकार की है.

असरानी ने ट्वीट किया, ‘‘ ‘उदार’ मीडिया द्वारा ‘बहिष्कृत’ किसी व्यक्ति को अपनी राय रखने का अधिकार नहीं है? भले ही उसका बयान मानवीय, साहसी और सामयिक हो? कंगना रनौत विवाह की समानता को लेकर बोलती हैं, जिस पर ज्यादातर फिल्मी सितारे बात करने से कतराते रहे हैं.’’ प्रधान न्यायाधीश डी वाई चंद्रचूड़, न्यायमूर्ति एस के कौल, न्यायमूर्ति एस रवींद्र भट्ट, न्यायमूर्ति पी एस नरसिम्हा और न्यायमूर्ति हिमा कोहली की पांच सदस्यीय संविधान पीठ उन याचिकाओं पर दलीलें सुन रही है, जिनमें समलैंगिक विवाह को वैधता प्रदान करने का अनुरोध किया गया है.

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

केरल से IS में भर्ती होने की बात से इनकार नहीं किया जा सकता; विजयन को आंकड़ा पता है: BJP

कोझिकोड/तिरुवनंतपुरम. फिल्म ‘केरल स्टोरी’ के तथ्यों और इस सिलसिले में अभिव्यक्ति की आजादी के मुद्दे को लेकर राज्य में छिड़ी राजनीतिक बहस के बीच भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने दावा किया है कि दक्षिण भारत के इस राज्य से आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) में भर्ती होने की बात से […]

You May Like

Subscribe US Now